Aap Shamme Risalat Hain Lyrics

Aap Shamme Risalat Hain Lyrics

 

Aap Shamme Risalat Hain Lyrics in Hindi

आप शम ए रिसालत है परवाने है हमअब हम आखिर यहां से किधर जायेंगे

ज़िन्दगी तो हमारी इसी दर से है
आप से दूर होंगे तो मर जायेंगे

जीस ने मांगा है कतरा तो दरिया दिया
जिसने दामन पसारा उसे भर दिया

बस सखवात तुम्हारी हमको भरम
खाली दामन कभी हम ना रह जायेंगे

जात में हम तो सरवर नकारे सही
फिर भी निसबत हमारी न्यारी सही

बस तुम्हारी शफ़ाअत पे हमको भरम
खुलद में भी ए प्यारे अगर जायेंगे

मिस्ले परवाना हम आपको ढूंढते
सुबह सादिक भी आका अब होने को है

जब के दीदार हम आपका पायेंगे
गर कदमों में आका हम मर जायेंगे

जाएं अजमेर को जाए बगदाद को
शाहे तैयबा किसी के भी दरबार को

एक सुवाल उनसे हर दम ये करते रहे
या वली कब मदीने को हम जायेंगे

अर्ज दिल से ये अशरफ की आका सुनो
हां ब ज़ाहिर है नासीर के लब पर मगर
जब में आऊं मदीने में दीदार को
कहना दीवाने अब तुम किधर जाओगे

Here’s the Hinglish version of the given text:

“Aap Shamme Risalat Hain” ke lyrics in Hinglish:

Aap sham-e-risalat hai, parwane hai hum
Ab hum akhir yahan se kidhar jayenge

Zindagi toh hamari isi dar se hai
Aap se door honge toh mar jayenge

Jisne manga hai qatra toh dariya diya
Jisne daaman phailaya, use bhara diya

Bas sakhaawat tumhari hamko baram
Khali daaman kabhi ham na rah jayenge

Jaat mein hum toh sarwar nakaare sahi
Phir bhi nisbat hamari nyari sahi

Bas tumhari shafa’at pe hamko baram
Kulhad mein bhi ae pyare agar jayenge

Misle parwana hum aapko dhoondte
Subah saadik bhi aaka ab hone ko hai

Jab ke deedar hum aapka payenge
Gar kadamon mein aaka hum mar jayenge

Jaen Ajmer ko, jaen Baghdad ko
Shah-e-Tayyaba kisi ke bhi dargah ko

Ek sawaal unse har dum ye karte rahe
Ya wali kab Madine ko hum jayenge

Arz dil se ye Ashraf ki aaka suno
Haan bazahir hai Naseer ke lab par magar
Jab mein aaoon Madine mein deedar ko
Kehna dewane ab tum kidhar jayoge

 

Leave a Reply